सर्दी-जुकाम में लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
सर्दी-जुकाम में लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

गुड खाने के स्वास्थ्य लाभ



भारत में ज्यादातर लोग भोजन के बाद गुड़ लेना पसंद करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि स्वाद के साथ-साथ इसमें सेहत के कई राज छुपे हैं। गुड़ आपकी पेट से संबंधित बीमारियों को दूर करता है। इससे पाचन तंत्र मजबूत बनता है और त्वचा में भी निखार आता।
गुड़ स्‍वाद का ही नहीं बल्‍कि सेहत का भी खजाना है. ऐसा इसलिए कहा जाता है क्‍योंकि अकसर डॉक्‍टर बेहतर स्‍वास्‍थ्‍य के लिए मीठे खासतौर से चीनी से दूर रहने की सलाह देते हैं, लेकिन गुड़ के साथ ऐसा कोई बंधन नहीं है. गुड़ न सिर्फ खाने में टेस्‍टी है बल्‍कि यह कई औषध‍िय गुणों से भरपूर है. यह एक ऐसा सुपर फूड है जिसके फायदों के बारे बहुत कम लोग ही जानते हैं. आमतौर पर लोग सर्दियों के मौसम में ही इसका प्रयोग करते हैं, जबकि इसे साल भर खाया जा सकता है और शरीर को इसे ढेरों लाभ भी मिलते हैं. इसे आपको अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए
ब्लड प्रेशर करे नियंत्रित-
गुड़ में सोडियम और पोटेशियम पाए जाते हैं। ये शरीर में एसिड की मात्रा को कंट्रोल करने में सहायक होते हैं जिस वजह से ब्लड प्रेशर भी नियंत्रित रहता है।
पेट के लिए गुणकारी
गुड़ पेट से संबंध‍ित कई समस्‍याओं का रामबाण इलाज है. अगर आपको गैस या एसिड‍िटी की श‍िकायत है तो गुड़ खाने से लाभ म‍िलेगा. वहीं, गुड़, सेंधा नमक और काला नमक मिलाकर खाने से खट्टी डकारों से छुटकारा मिल जाता है. भोजन के बाद गुड़ खाने से डाइजेशन अच्‍छा रहता है. गुड़ खाने से भूख भी खुलती है.
 दूर करे खून की कमी
गुड़ आयरन का बहुत बड़ा स्रोत है. अगर आपका हिमोग्‍लोबिन कम है तो रोजाना गुड़ खाने से तुरंत लाभ मिलने लगेगा. गुड़ खाने से शरीर में लाल रक्‍त कोश‍िकाओं की मात्रा बढ़ जाती है. यही वजह है कि प्रेग्‍नेंट महिलाओं को डॉक्‍टर गुड़ खाने की सलाह देते हैं. एनिमिया के मरीजों के लिए तो गुड़ अमृत के समान है.
शरीर बनेगा मजबूत और एक्टिव
गुड़ शरीर को मजबूत और एक्टिव बनाए रखता है. शरीरिक कमजोरी दूर करने के लिए दूध के साथ गुड़ का सेवन करने से ताकत आती है और शरीर ऊर्जावान बना रहता है. अगर आपको दूध नहीं पसंद है तो एक कप पानी में पांच ग्राम गुड़, थोड़ा सा नींबू का रस और काला नमक मिलाकर सेवन करने से आपको थकान महसूस नहीं होगी.
त्‍वचा की देखभाल
आप यह जानकर हैरान रह जाएंगे कि गुड़ आपकी त्‍वचा को साफ रख उसकी देखभाल में अहम भूमिका निभाता है. गुड़ शरीर से हानिकारक टॉक्‍सिन बाहर निकालने में मददगार है. इससे आपकी त्‍वचा साफ और स्‍वस्‍थ बनी रहती है. रोजाना गुड़ खाने से मुंहासों से छुटकारा मिल जाता है और चेहरा ग्‍लो करने लगता है.
टिप्पणियां
सर्दी-जुकाम में कारगर
गुड़ सर्दी-जुकाम भगाने में काफी असरदार है. काली मिर्च और अदरक के साथ गुड़ खाने से सर्दी-जुकाम में आराम मिलत है. अगर किसी को खांसी की श‍िकायत है तो उसे चीनी के बजाए गुड़ खाना चाहिए. गुड़ को अदरक के साथ गर्म कर खाने से गले की खराश और जलन में राहत मिलती है.
जोड़ो में ना होने दे दर्द-
सर्दियां आते ही लोगों को जोड़ो के दर्द की शिकायत होने लगती है। गुड़ आपको इस दर्द से राहत दिलाता है। आप गुड़ को अदरक के साथ खा सकते हैं या चाहे तो एक ग्लास दूध के साथ भी आप इसे ले सकते हैं। ये हड्डियों को मजबूत बनाता है।
आंखों के लिए फायदेमंद
गुड़ का सेवन आंखों के लिए बहुत फायदेमंद है. गुड़ खाने से आंखों की कमजोरी दूर होती है. यही नहीं गुड़ आंखों की रोशनी बढ़ाए रखने में बहुत मददगार है.
दिमाग के लिए गुणकारी
गुड़ आपके मूड को अच्‍छा बनाने का काम भी करता है. यही नहीं अगर आपको माइग्रेन की श‍िकायत है तो रोजाना गुड़ खाने से बहुत फायदा होगा. नियमित रूप से गुड़ खाने से आपका दिमाग मजबूत बना रहेगा और याद्दाश्‍त भी अच्‍छी रहेगी.
आसानी से पचाता है खाना-
गुड़ पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है। इसे खाने से पेट में गैस नहीं बनती और ना ही कब्ज की शिकायत रहती है।
पीरिड्स के दर्द से राहत-
पीरिड्स के दौरान अक्सर महिलाएं चिड़चिड़ी हो जाती हैं। गुड़ का सेवन आपको इस चिड़-चिड़ेपन से दूर रखता है और दर्द से भी राहत दिलाता है।
कान का दर्द मिटाए-
गुड़ को घी के साथ गर्म करके खाएं इससे कान का दर्द छूमंतर हो जाएगा।
गले की खराश करे दूर-
गुड़ को अदरक के साथ गर्म करके खाने से गले की खराश दूर होती है।
लिवर के लिए-
ये हमारे खून से हानिकारक टॉक्सिन को बाहर निकालता है और शरीर में रक्त प्रवाह बेहतर बनाता है। इससे हमारा लिवर स्वास्थ बना रहता है।
आयरन का स्त्रोत-
गुड़ में आयरन की भरपूर मात्रा पाई जाती है। एनिमिया से ग्रस्त लोगों के लिए ये बहुत फायदेमंद रहता है।
मिटाए थकान-
जब भी आप थकान महसूस करें तो गुड़ खा लें। ये हमारे शरीर को ऊर्जा प्रदान करता है।
दमा मरीजों के लिए-
गुड़ में एंटी एलर्जिक गुण पाए जाते हैं। इस वजह से ये अस्थमा रोगियों के लिए काफी फायदेमंद होता है। आप गुड़ और तिल के लड्डू बनाकर खा सकते हैं। साथ ही ये शरीर के तापमान को भी नियंत्रित करता है।

किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि 

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि 

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि 

आर्थराइटिस(संधिवात)के घरेलू ,आयुर्वेदिक उपचार