प्याज और बैगन लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
प्याज और बैगन लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

दूध पीने के साथ न खाएं ये आहार // Do not eat this diet with drinking milk


                       

दूध में विटामिन, खनिज, प्रोटीन, स्वस्थ वसा और एंटीऑक्सिडेंट सहित पोषक तत्वों की एक विस्तृत श्रृंखला होती है। दूध प्रोटीन का एक समृद्ध स्रोत है जिसमें सभी नौ आवश्यक अमीनो एसिड होते हैं। यह उम्र से संबंधित मांसपेशियों के नुकसान को कम करने और व्यायाम के बाद मांसपेशियों की मरम्मत को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है। दूध में मौजूद विभिन्न प्रकार के पोषक तत्व जो हड्डियों के स्वास्थ्य को लाभ पहुंचाते हैं, जैसे कैल्शियम, विटामिन डी, फॉस्फोरस और मैग्नीशियम। अध्ययनों से पता चलता है कि दूध और डेयरी उत्पादों का सेवन ऑस्टियोपोरोसिस को रोक सकता है और फ्रैक्चर के जोखिम को कम कर सकता है।
अगर आप रोजाना दूध पीएंगे तो आपको ये सारे फायदे आसानी से मिल जाएंगे। मगर दूध पीने से पहले कुछ बातों का ध्‍यान रखना जरूरी होता है। एक्‍सपर्ट की मानें तो कुछ ऐसे आहार हैं जिन्‍हें दूध पीने से पहले सेवन नहीं करना चाहिए। ये आपके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए हानिकारक हो सकते हैं।
दूध पीने से पहले न खाएं ये फूड
उड़द की दाल के खाने के बाद न पीएं दूध
उड़द की दाल खाने के बाद दूध का सेवन करने से आपका डाइजेशन खराब हो सकता है। दोनों एक साथ सेवन करना हानिकारक है। दाल खाने के बाद दूध पीने से आपको पेट में दर्द, उलटी और शरीर में भारीपन महसूस हो सकता है।
मूली और जामुन का सेवन न करें
अगर आप मूली और जामुन खा रहे हैं तो इसके तुरंत बाद दूध का सेवन कभी न करें। मूली और जामुन के सेवन के बाद दूध पीना आपके लिए खतरनाक हो सकता है। ऐसा करने से आपको त्वचा संबंधी कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। यही नहीं, इसके अलावा चेहरे पर खुजली होने के साथ चेहरे पर झुर्रियां पड़ने की भी संभावना बढ़ जाती है।
. दूध पीने से पहले करेले और भिंडी का सेवन न करें
दूध पीने से पहले कभी भी करेले और भिंडी की सब्जी का भी सेवन नहीं करना चाहिए। इन सब्जियों को खाने के बाद दूध पीने से आपके चेहरे पर काले धब्बे पड़ने शुरू हो सकते हैं जिसकी वजह से आपके चेहरे रंग बेरंग हो सकता है। आप चेहरा खराब हो सकता है।
दूध कब कब नहीं पीना चाहिए?
खाना खाने के बाद
दूध अपने आप में एक संपूर्ण आहार होता है इसलिए भोजन करने के तुरंत बाद दूध पीना दोबारा भोजन करने के बराबर माना जाता है। क्योंकि दूध को पचाने में काफी समय लगता है। और अगर भोजन के बाद दूध पी लिया जाए तो इससे शरीर भारी लगने लगता है। पेट ज्यादा भरा हुआ महसूस होता है। और भोजन पचने की प्रक्रिया धीमी हो जाती है।
यदि भोजन करने के बाद तुरंत दूध पीना ही हो तो, भोजन और दूध की मात्रा दोनों आधी आधी कर ले। उदाहरण के लिए अगर आप 4 रोटी और एक गिलास दूध पीना चाहते हैं तो, इस स्थिति में रोटी की मात्रा 2 कर दें, और दूध भी केवल आधा गिलास पिए। केवल ऐसा करने से ही आपका भोजन ठीक तरह से पच पाएगा। लेकिन इससे भी बेहतर तरीका यह है कि भोजन करने और दूध पीने के बीच में कम से कम 2 घंटे का अंतराल रखें।
खट्टे फल के बाद न पीएं दूध
दूध पीने से पहले खट्टे फलों का सेवन नहीं करना चाहिए। अगर आप खट्टे फल खाने के बाद दूध पीते हैं तो आपको वोमेटिंग या उल्‍टी की शिकायत हो सकती है। अगर आप ऐसे फलों का सेवन करते हैं तो दूध पीने में 2 घंटे का गैप जरूर दें।
प्याज और बैगन
दूध का केमिकल कंपाउंड प्याज और बैगन के भी विरोध होता है। इसलिए अगर आप भोजन में बैगन और सलाद के लिए कच्चे प्याज का सेवन करते हैं तो कम से कम दो घंटे के बाद ही दूध का सेवन करें। इन दोनों के साथ दूध का मिश्रण होने से अलग-अलग तरह के स्किन एलर्जी और त्वचा रोग होने की संभावना काफी बढ़ जाती है।
मछली खाने के बाद न पीएं दूध
मछली खाना सेहत के लिए फायदेमंद हो सकता है। यह त्‍वचा और बालों की सेहत के लिए भी फायदेमंद है। मगर इसे खाने के तुरंत बाद दूध कभी नहीं पीना चाहिए। ऐसा करने से आपकी पाचन क्रिया खराब हो सकती है। इससे आपको कई तरह की परेशानी हो सकती है। फूड पॉइजनिंग, पेट दर्द और शरीर पर सफेद धब्बे हो सकते हैं।
दही के साथ
दूध में जब मिलाया जाता है तो दही दूध के साथ केमिकल रिएक्शन करके उसे भी दही में बदल देता है। और जब हम इन दोनों का साथ में या एक के बाद एक का सेवन करते हैं। तो यह प्रक्रिया हमारे पेट में शुरू हो जाती है। जिससे हमारे पाचन में गड़बड़ी होने की संभावना काफी ज्यादा बढ़ जाती है।

किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि 

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि 

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि 

आर्थराइटिस(संधिवात)के घरेलू ,आयुर्वेदिक उपचार