पेट की गैस और कब्ज लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
पेट की गैस और कब्ज लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

सेहत के लिए गुणों से भरपूर है लहसुन.








*लहसुन गुणों से भरपूर भरतीय सब्जियों का स्वाद बढाने वाला ऐसा पदार्थ है जो प्राय; हर घर में इस्तेमाल किया जाता है|अधिकाँश लोग इसे केवल एक  मसाले के तौर पर ही प्रयोग करते हैं| लेकि एक औषधि के रूप में भी  लहसुन बेहद महत्वपूर्ण है|
*लहसुन शरीर की रोग प्रतिरोधक शक्ति बढाती है| यह केंसर जैसे मारक रोग से लड़ने में शरीर की मदद करता है|  चिकित्सक पेनक्रियाज , कोलन,ब्रेस्ट प्रोस्टेट  केंसर में  इसका प्रयोग करने की सलाह देते  हैं| लहसुन सेवन  से शरीर में रोग का  संक्रमण  कम होता है|
* लहसुन खाने से खून में  अच्छे कोलेस्ट्रोल  की मात्रा बढती है इससे ह्रदय रोगों पर काबू पाना आसान हो जाता है|  हाईपर टेंशन  के रोगियों को प्रतिदिन तीन  लहसुन की कली  खाने का नियम बना लेना चाहिए| इसमें जो एलीसिन तत्त्व  होता है वो




ब्लड प्रेशर को सामान्य  बनाने  मे सहायता  करता  है|
*पेट की गैस और कब्ज की बीमारी से परेशान  लोगों को अपने भोजन में  लहसुन का नियम पूर्वक व्यवहार  करना कर्त्तव्य है|






*जोड़ों  के  दर्द  व कमर के दर्द में लहसुन की खीर असरदार होती है|
* पाँच कली लहसुन की बारीक काट लें और दूध में उबालें  ,स्वाद के लिए थौड़ी  सी शकर भी डालें|  मामूली गरम हालत में  पियें|  दर्द भी  घुटने टेकेगा|





*सुनने की क्षमता बढाने के लिए  सरसों के तेल में लहसुन डालकर पकालें|  छान लें ,शीशी  में  भर लें| बहरापन दूर करने के लिए यह तेल  २-३ बूँद  कान में डालकर रूई लगालें|  ४५ दिन में फ़ायदा दिखेगा | कान का दर्द भी इस दवा से मिट जाता है|





किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि

आर्थराइटिस(संधिवात)के घरेलू ,आयुर्वेदिक उपचार