दमा और खांसी लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
दमा और खांसी लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

फिटकरी के घरेलू आयुर्वेदिक ज्योतिषीय उपयोग // Astrological , Ayurvedic use of alum

                                                    

     फिटकरी एक ऐसा क्रिस्‍टल है जो सभी घरों में प्रयोग होता है। पुरुष इसे आफ्टरशेव के तौर पर इस्‍तमाल करते हैं। फिटकरी को पहले जमाने में महिलाएं चेहरे को टाइट बनाने के लिये प्रयो‍ग किया करती थीं। यह लाल व सफेद दो प्रकार की होती हैं। फिटकरी में कई सारे गुण होते हैं। यह बैक्‍टीरिया का नाश करती है इसलिये लोग इसे डियोड्रंट की जगह पर अपने बगल में भी लगाते हैं। यह एंटीबैक्‍टीरियल होती है इसलिये इसे दंत रोग से छुटकारा पाने के लिये प्रयोग करें। आइये जानते हैं फिटकरी के कुछ लाभदायक गुणों के बारे में।
1. फिटकरी को चोट या घाव लगने पर इस्‍तमाल करें। फिटकरी का पानी लगाने से घाव से खून बहना बंद हो जाएगा। आपके इसका चूर्ण बना कर भी प्रयोग कर सकते हैं। 
2. चेहरे से झुर्रियों को मिटाने के लिये चेहरे को धो लें। फिर फिटकरी को ठंडे पानी से गीला कर के चेहरे के आस पास हल्‍के रगडें। अब इसे सूख जाने दें और फिर इसे हाथों से छुड़ा कर साफ कर लें। कुछ महीनों के प्रयोग के बाद आपका चेहरा चमकदार और यंग बन जाएगा। 
3. दमा और खांसी है तो, आधा ग्राम फिटकरी को पीस कर शहद के साथ मिक्‍स कर के चाट लें, आपको तुरंत लाभ होगा।
4. एंटीबैक्‍टीरियल और एस्‍ट्रिजेंट तत्‍व होने की वजह से यह दंत रोग को दूर कर सकती है। यह माउथवॉश की तरह भी प्रयोग की जा सकती है। 
5. फिटकरी को नहाने के पानी में घोल कर प्रयोग करने से खुजली और शरीर से बदबू आना बंद होती है। 
6. कीडे़-मकौडे़ के काट लेने पर फिटकरी के टुकड़े को उस जगह पर रगडे़। इससे सूजन, घाव और लालिमा दूर होगी। 
7. फिटकरी को चेहरे पर लगाने से चेहरा गोरा बनता है और त्‍वचा टोन हो जाती है।
8. एक लीटर पानी में 10 ग्राम फिटकरी का चूर्ण घोल लें। इस घोल से प्रतिदिन सिर धोने से जुएं मर जाती हैं।

9. टांसिल की समस्या होने पर गर्म पानी में चुटकी भर फिटकरी और नमक डालकर गरारे करें। इससे टांसिल की समस्या में जल्दी ही आराम मिल जाता है।


वास्तु दोषों में फिटकरी-
जी हां, इस एंटीसेप्टिक सफेद पत्थर में आपके घर की नकारात्मक ऊर्जा को सोखकर कर सभी प्रकार के वास्तु दोषों को खत्म कर सकने की क्षमता है। इतना ही नहीं, यह चूहे और तिलचट्टे आदि को भी आपके घर से दूर रखता है।

धन और व्यापार की परेशानियां-

व्यापार में लगातार नुकसान हो रहा हो, तो दुकान या ऑफिस के किसी भी कोने में 50 ग्राम फिटकरी रखें। इसके अलावा आपको अपने निवास स्थल के भी हर कमरे में और विशेषकर अपने सोने के कमरे में किसी जगह फिटकरी अवश्य रखना चाहिए। इससे आपके घर और व्यापार से जुड़े सभी वास्तु दोष समाप्त हो जाते हैं और लाभ की स्थितियां बनने लगती हैं।

बंधी हुई फिटकरी-

अगर लगे कि व्यापार में पर्याप्त लाभ नहीं हो रहा, तो घर और कार्यस्थल दोनों ही जगह मुख्य द्वार पर एक लाल कपड़े या रुमाल में फिटकरी बांधकर लटकाएं। इससे भी आपके व्यापार से जुड़ी बाधाएं दूर होंगी और मुनाफा होने लगेगा|


धन सुरक्षा-
अगर चाहते हैं कि भविष्य में आपके जीवन में कोई मुश्किल ना आए, तो घर में फिटकरी रखना सबसे आसान उपाय है। घर के बाथरूम में विशेषकर इसे जरूर रखें, लेकिन हर माह पुरानी फिटकरी बदलकर इसकी जगह एक नया टुकड़ा रखना ना भूलें। इसके लिए फिटकरी के कुछ टुकड़े कांच की किसी कटोरी या जार में रखकर बाथरूम में ऐसी जगह रखें जहां से ये गिरे ना और रखा रहे।कर्ज में
अब एक ताजा पान के पत्ते में इसे लपेटकर लाल धागे या कलावा (कच्चा सूत) से बांध दें। पान की इस पोटली को शाम के समय किसी भी पीपल पेड़ के नीचे मिट्टी में दबा दें। यह उपाय जल्दी ही असर दिखाएगा और धीरे-धीरे आप कर्ज से मुक्त हो जाएंगे।

सफाई के दौरान-

इसके अलावा घर में सफाई के दौरान पोछे के पानी में थोड़ी फिटकरी और सामान्य नमक मिलाकर पोछा डालना घर के सभी वास्तु दोष खत्म करता है और पूरा परिवार तरक्की करता है।

किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि