त्वचा की कसावट लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
त्वचा की कसावट लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

जीरा (क्यूमिन सीड्स ) है गुणों का खजाना



दुनिया भर में भारत की जो मशहूर चीज है वह है यहां के मसाले, हिंदुस्तान के मसाले और इनकी खुशबू का कोई जवाब नहीं | भारत के मसालों का स्वाद यदि कोई एक बार चख लेता है तो फिर उसे भुला पाना आसान नहीं होता है | मसाले खाने में स्वाद व खुशबू तो बढ़ाते ही हैं साथ ही स्वास्थ्य के लिए भी लाभकारी होते हैं | उन्हीं मसालों में से सबसे ज्यादा प्रयोग जीरा (Jeera) होता है | बिना जीरे के भारतीय रसोई की कल्पना भी नहीं की जा सकती |
हमारे रोज़ाना के खाने में इस्तेमाल होने वाले खाद्य पदार्थों के गुण यदि हम सही रूप से जान लें, तो शायद हम कभी बीमार ना पड़ें। हर एक खाद्य पदार्थ अपने आप भी अनमोल है। शरीर से जुड़ी किसी विशेष परेशानी को खत्म करने की सक्षमता रखते हैं यह खाद्य पदार्थ।
जीरा दाल सब्जी में छौंक लगाने वाला मसाला है। अगर हम चाट की बात करें, तो वो भी जीरे के बिना अधुरा सा लगता है। जीरा पाचन और सुंगधित मसाला है। जीरा हमारे भोजन में अरुचि, पेट फूलना, अपच आदि समस्याओं को दूर करने वाली एक औषधि है|
जीरे के फायदे
पेट दर्द में तुरंत राहत
यदि किसी को पेट दर्द की समस्या है तो जीरा और चीनी को समान मात्रा में मिलाकर उसे दें | इसे खूब चबा चबा कर खाना होता है, जीरे से निकला रस पेट दर्द में तुरंत राहत देता है |
वजन कम करने में सहायक
आज की सबसे बड़ी और सबसे आम समस्या है – तेजी से वजन बढ़ना | यह हर तीसरे व्यक्ति की समस्या बनी हुई है | आज कल का खान-पान ऐसा हो गया है जिससे खाने पर कंट्रोल नहीं रहता और लोग मोटापे का शिकार हो जाते हैं | बढ़ता वजन ना केवल शरीर पर बल्कि कहीं ना कहीं दिमाग पर भी असर डाल रहा है | ऐसे में लोग तरह तरह की एक्सरसाइज़ करते हैं | कई लोग तो इसके लिए दवाइयाँ भी खाते हैं | पर कोई खास असर उन्हें दिखाई नहीं देता | ऐसे में यदि आप ये सब करके थक गए हैं तो जरा इस नुस्खे को भी अपना कर जरूर देखिये आपको बेहतर परिणाम मिलेंगे |
जीरा पाउडर को पानी में मिलाकर उसमें दो चार बूंदें शहद की डालकर रोज़ सुबह खाली पेट पीएं | शहद के साथ नींबू को मिलाकर पीने से भी वजन कम किया जा सकता है |
रोज एक चम्मच जीरा पाउडर दही में मिलाकर खाएं |
रोजाना एक या दो चम्मच जीरा रात को पानी में भिगोकर रखें | सुबह उस पानी को जीरे समेत उबाल लें | अब उसे ठंडा करके सिप सिप करके पिये |
जीरे को यदि अदरक और नींबू के साथ मिलाकर इसका सेवन किया जाये तो यह वजन को जल्दी कम करने में काफी मदद करता है |
बुखार में सहायक
जीरे के साथ गुड को मिलाकर इसकी गोलियाँ बना कर दिन में दो तीन बार खाने से शरीर का तापमान संतुलन में आ जाता है |
शरीर को ठंडक देता है – 
जीरा तासीर में ठंडा होता है इसके सेवन से शरीर को ठंडक मिलती है | साथ ही यह शरीर से विषाक्त तत्वों को निकाल देता है | गर्मी में ठंडे पानी में नमक,चीनी,नींबू के साथ जीरा पाउडर मिलाकर पीने से शरीर की गर्मी कम हो जाती है | यह डिहाइड्रेशन से भी बचाता है |
पाचन क्रिया सुधारने में सहायक –
 जीरे में मौजूद पोषक तत्व और एंटी-ओक्सीडेंट पाचन तंत्र को मजबूत करता है | यह इम्यूनिसिस्टम को बढ़ाता है साथ ही पेट से सम्बन्धित रोग भी दूर करता है | इससे खाना अच्छे से पच जाता है | पेट में एंठन नहीं बनती गैस की समस्या नहीं होती | पाचन क्रिया को ठीक रखने के लिए लौंग के भी काफी नुस्खे हैं |
भूख को बढ़ाता है
 जिन लोगों को भूख कम लगती है उनके लिए जीरा बहुत लाभदायक है | खाने से पहले जीरा चबा – चबा कर खाने से भूख ज्यादा लगती है |
डिलिवरी के बाद माँ को दूध कम आता हो –
प्रसव के बाद अक्सर यह समस्या महिलाओं मे पायी जाती है कि उन्हे दूध कम उतरता है तो उस समय माँ को शाही जीरे का प्रयोग करना चाहिए इससे भरपूर दूध उतरेगा |
आयरन का स्त्रोत – 
जिन लोगों को खून की कमी रहती है उनके लिए जीरा काफी लाभकारी है | यह आयरन का अच्छा स्त्रोत है | गर्भवती महिलाओं के लिए यह अमृत के समान होता है |
कोलेस्ट्रॉल कम करने में लाभकारी –
आज कल कोलेस्ट्रॉल की समस्या काफी आम हो गई है | हर कोई इस बीमारी से पीड़ित है ऐसे में जीरा आपके कोलेस्ट्रॉल लेवल को संतुलित रखता है |
जी मिचलाने पर तुरंत जीरा दें – 
यदि किसी का जी मिचला रहा हो तो जीरे को चबा चबा कर उसका रस चूसने से तुरंत आराम मिलता है | पानी में इलाइची को उबालकर पीने से भी जी मचलाना बंद हो जाता है |
बालों की समस्या को करता है दूर
जीरा ना केवल हमारी त्वचा के लिए फायदा करता है बल्कि हमारे बालों के लिए भी काफी लाभकारी है | बस फर्क सिर्फ इतना है की यहां जीरा काला इस्तेमाल होता है मतलब रसोई घर में जो जीरा यूज होता है वह नहीं बल्कि इसके लिए अलग से काला जीरा आता है |
बालों के झड़ने की समस्या –
 यदि बालों के झड़ने की समस्या से परेशान हैं तो काले जीरे का तेल सिर में लगाएँ इसके परिणाम काफी कारागार हुए हैं |
लंबे मजबूत घने बालों के लिए – 
रोजाना काले जीरे का सेवन दवाई की तरह करें | इससे बालों का विकास होगा, बाल काले और मजबूत हो जाएँगे 
रूसी से निजात –
 जिन लोगों को रूसी की समस्या है वह तेल को गर्म करके जीरा भी गर्म कर लें | अब गुनगुने तेल से सिर की मसाज करें | 2 से 3 बार ऐसा करने से सिर की रूसी खत्म हो जाती है |
*मेथी, अजवाइन, जीरा और सौंफ को बराबर मात्रा में मिलाकर पीस लें. इस मिश्रण को एक चम्मच हर रोज खाने से शुगर, जोड़ों के दर्द और पेट के विकारों में आराम होगा. गैस की समस्या में भी इससे फायदा होगा.
त्वचा सम्बन्धी रोगों को दूर करता है
विटामिन सी का स्त्रोत –
 जीरा ना सिर्फ हमारे रोगों को दूर भगाता है बल्कि यह हमारी त्वचा के लिए भी काफी फायदेमंद साबित हुआ है | जीरा पाउडर में विटामिन सी पाया जाता है जो त्वचा के लिए काफी अच्छा होता है |
त्वचा की कसावट के लिए – 
आप जब भी फेसपैक लगाएँ तो उसमें थोड़ा सा जीरा पाउडर जरूर मिला लें | यह ना केवल आपकी त्वचा में कसाव लाता है बल्कि आपकी रंगत भी निखारता है |
त्वचा सम्बन्धी रोग – 
यदि आप पिम्पल्स से परेशान हैं या चेहरे के दाग धब्बों से परेशान हैं तो जीरा पाउडर का पेस्ट बना कर उस जगह पर लगाएँ इससे आपको काफी अच्छे परिणाम नजर आएंगे |
चेहरे की चमक – 
पानी में जीरा उबाल लें और इस पानी को ठंडा करके इससे मुँह धो लें | इससे चेहरे पे चमक आ जाती है
लीवर को नुकसान पहुंचाए जीरा
जीरे का अधिक मात्रा में सेवन करने से किडनी और लीवर को नुकसान
पहुंच सकता है, जीरे का तेल मांसपेशियों की ऐंठन को कम करने या रोकने के लिए जानवरों के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।
हार्ट बर्न
जीरा गैस से राहत देने वाले गुणों के लिए जाना जाता है, लेकिन विंडबना यह है कि यह सबसे आम पाचन संबंधी समस्या है और हार्ट बर्न का मुख्य कारण बनता है।
गर्भवती के लिए हानिकारक -
जो महिलाएं गर्भवती होती है, उनके लिए जीरे का अधिक सेवन हानिकारक होता है। क्योंकि इससे महिलाओं का गर्भपात होता है। इसका अर्थ है कि जीरे का अधिक सेवन करने से गर्भपात या समय से पहले डिलीवरी होने की आंशका बढ़ जाती है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को जीरे से दुरी बनाकर रखनी चाहिए।
मादक प्रभाव
जीरे के नुकसान में एक नुकसान इसमें मौजूद मादक गुण है, इसलिए जीरे का सेवन सावधानीपूर्वक करना चाहिए। जब आप जीरे का सेवन अधिक मात्रा में करने लगते हो तो यह आपके लिए नशा बन जाता है। जिसके कारण आपको मानसिक समस्याएं उनींदापन और मतली जैसी समस्याएँ हो सकती है।
ब्रेस्टफीडिंग मे जीरा के दुष्प्रभाव
जो महिलाएं ब्रेस्टफीडिंग करवाती हैं, उनके लिए जीरे का सेवन अच्छा नहीं होता। इसलिए स्तनपान करवाने वाली महिलाओं को जीरे का अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि इससे उनके दूध का उत्पाद कम हो जाता है।
जीरे के सेवन से ब्लड शुगर का निम्न स्तर
अगर आप जीरे का सेवन अधिक मात्रा में करते हो तब आपके शरीर में ब्लड शुगर का स्तर कम होने लगता है। इसलिए निकट भविष्य में एक सर्जरी में जाने से पहले इस बात को याद रखना बहुत महत्वपूर्ण है। क्योंकि सर्जरी के दौरान ब्लड शुगर का स्तर बना रहना अति आवश्यक है। शुगर के स्तर को नियंत्रण में करने के लिए कम से कम दो सप्ताह पहले जीरे का सेवन बंद कर देना चाहिए।
भारी माहवारी न खाएं जीरा
मासिक धर्म के दौरान जीरा हेवी ब्लीडिंग का कारण बन सकता है। अगर आपने जीरे का सेवन अधिक मात्रा मे कर लिया है और इससे आपको हेवी ब्लोडिंग हो रही है, तब ऐसे में आपको इससे बचने के लिए जीरे का सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए।
डायबीटीज के रोगियों के लिए नुकसानदेह जीरा
जीरे का नुकसान डायबिटीज रोगियों के लिए भी होता है। क्योंकि डायबिटीज रोगियों को अपने ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रण में रखने की आवश्यकता होती है। उन्हें स्वस्थ रहने के लिए ब्लड शुगर को सामान्य रखना होता है। ब्लड शुगर के स्तर में उतार चढाव डायबीटीज के रोगियों के लिए अच्छा नहीं होता। डायबिटीज के रोगियों को अपना ब्लड शुगर का स्तर सही रखने के लिए जीरे से दुरी बना कर रखनी चाहिए।