तुलसी: लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
तुलसी: लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

माँ का दूध बढ़ाने वाले भोजन // Mother's milk-enhancing food


  

        माँ के लिए अपने बच्चे को पहली बार स्तनपान करना अविस्मरणीय और ममता से भरा अहसास होता है। शिशु के लिए माँ का दूध अमृत के समान होता है। माँ का पहला दूध बच्चे को जीवन भर कई बीमारियों से लड़ने की शक्ति प्रदान करता है
   यही नहीं स्तनपान से माँ और शिशु का रिश्ता भी मजबूत बनता है। लेकिन कई बार माँ के स्तनों में भी दूध की कमी हो जाती है। यह बच्चे और माँ दोनों के लिए बहुत गंभीर स्तिथि होती है। इसी के मद्देनज़र रखते हुए हम आज के आर्टिकल में सिर्फ आपके लिए लाये है कुछ आसान उपाय।



आप अपने बच्चे को पर्याप्त दूध नहीं पिला पाती हैं तो यह वाकई में आपके लिये बहुत बडी़ चिंता का विषय है। ब्रेस्ट मिल्क कम  होने के बहुत से कारण हो सकते हैं जैसे, तनाव, डीहाइड्रेशन, अनिद्रां आदि। लेकिन ऐसी कइ प्रभावशाली विधियां हैं जिससे आप ब्रेस्ट मिल्क बढा सकती हैं। आपको केवल अच्छे प्रकार का आहार खाना होगा जो कि बच्चे पर कोई बुरा प्रभाव ना डाले। इन्हें अपने रोजाना के खाने में प्रयोग करें और ब्रेस्ट मिल्क की सपलाई को बढाएं। खाएं यह आहार-
मेथी - 
इसमें आयरन, विामिन, कैल्शियम और मिनरल पाए जाते हैं। मेथी का प्रयोग कई पुराने सालों से किया आता जा रहा है और रिसर्च भी इस बात से सहमत है। लेकिन इसे ज्यादा ना खाएं वरना डीहाइड्रेशन भी हो सकता है। मेथी को कच्चा खाने की बजाए इसको सब्जी में डाल कर खाएं।लहसुन - इसे खाने से भी दूध बढने की क्षमता बढती है। कच्चा लहसुन खाने से अच्छा होगा कि आप उसे मीट, करी, सब्जी या दाल में डाल कर पका कर खाएं। अगर आप लहसुन को रोजाना खाना शुरु करेंगी तो यह आपको जरुर फायदा पहुंचाएगा।



मेवा - 
बादाम और काजू जैसे मेवे ब्रेस्ट मिल्क बढाने में सहायक होते हैं। इसके अलावा यह विटामिन, मिनरल और प्रोटीन में काफी रिच होते हैं। अच्छा होगा कि आप इन्हें कच्चा ही खाएं।
करेला - 
इसके अंदर विटामिन और मिनरल अच्छी मात्रा में पाया जाता है, जिससे ब्रेस्ट मिल्क बढाने की क्षमता बढ जाती है। यह स्त्री में लैक्टेशन सही करता है। करेला बनाते वक्त हल्के मसालों का प्रयोग करें जिससे यह आसानी से हजम हो सके।




तुलसी:-
तुलसी के सेवन करने से न केवल बीमारियां ठीक हो जाती है बल्कि यह स्तन क दूध को बढ़ाने में भी मददगार होता है। इसके अंदर विटामिन क की मात्र अधिक पायी जाती है। आप इसको सूप म या कच्चे शहद के साथ भी खा सकते है।
यदि किसी महिला को आर्थिक या घर सम्बंधित समस्या रहती है या फिर झगडे या पारवारिक कलह की वजह से चिंतित रहती है तो इसको दूर कर अपने मन को शांत रखे ताकि आप अपने बच्चे पर अच्छी तरह से कंसन्ट्रेट कर सकेगी।