चीजों को धीरे-धीरे सूंघें लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
चीजों को धीरे-धीरे सूंघें लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

सूंघने की क्षमता बढ़ाने के उपचार

                                                      
      आपके अपने सूंघने की शक्ति को बढ़ाने के कई कारण हो सकते हैं। एक कारण यह भी है कि यह स्वाद लेने वाली इन्द्रिय से काफी नजदीकी से जुड़ा है। अपनी नाक को दबाकर खाने को चखने की कोशिश करें। यह एक ज़रूरी हुनर है जो शराब, कॉफ़ी, बियर और चाय की सुगंध का वर्णन करने में मदद करती है। सामान्य रूप से अगर आप एक फूल की सुगंध में जटिलता को सूंघ पा रहे हैं तो यह एक गहरा आनंद देता है।
एक औसत इंसान की नाक तकरीबन 10,000 अलग प्रकार की गंध को पहचान सकती है। लेकिन जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है, आपकी यह शक्ति कमजोर होने लगती हैं। आइए हम आपको बताते हैं कि सूंघने की क्षमता को कैसे बढ़ाया जाये।

*सूंघने की क्षमता बढ़ाने के उपाय-

क्या आप जानते हैं कि एक औसत इंसान की नाक तकरीबन 10,000 अलग प्रकार की गंध को पहचान सकती है? और सामान्य रूप से अगर आप एक फूल की सुगंध में जटिलता को सूंघ पा रहे हैं तो यह एक गहरा आनंद देता है। वैसे तो सूंघने की शक्ति बढ़ाने के कई कारण हो सकते हैं, लेकिन सबसे अहम कारण यह है कि यह स्‍वाद लेने वाली इंद्रियों से काफी नजदीक से जुड़ा होता है। लेकिन जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है, आपकी यह शक्ति कमजोर होने लगती हैं। आइए हम आपको बताते हैं कि सूंघने की क्षमता को कैसे बढ़ाया जाये।
आप जिस चीज़ को सूंघ पा रहे हैं उसपर ज्यादा ध्यान दें। लोग अक्सर मांसपेशियों के विषय में कहते हैं "इस्तमाल में लाओ या गंवाओ", पर यही बात इन्द्रियों के लिए भी सच साबित होती है। अधिक अभ्यास के लिए अपने आँखों में पट्टी बाँध कर, किसी को अपनी नाक के पास अलग अलग चीज़ों को लाने के लिए कहें और देखें कि आप उस चीज़ को पहचान पाते हैं या नहीं|

बलगम निर्माण वाले आहार से परहेज-

*क्‍या आपने इस बात को नोटिस किया है कि जुकाम में आपके सूंघने की क्षमता बहुत कम हो जाती है। नाक के झिल्ली में सकुंचन के कारण गंध पकड़ने वाली नसें कमजोर हो जाती है। इसलिए सूंघने के क्षमता को बढ़ाने के लिए आपको ऐसे भोजन से परहेज करना चाहिए जो अधिक बलगम का निर्माण करते हैं। ऐसा खाना जो घुटन को बढ़ावा देता है जैसे दूध, पनीर, दही और आइसक्रीम ऐसी स्थिति में छोड़ने से आपको काफी मदद मिल सकती है। 
*महक की समस्या को कैस्टर ऑयल की मदद से दूर किया जा सकता है। इसमें मौजूद एंटीइंफ्लेमेट्री, एंटीऑक्सीडेंट और एंटीमाइक्रोबियल गुण होते हैं जो नाक को साफ करने में मदद करते है। इसका इस्तेमाल करने के लिए रोज सुबह और रात को सोने से पहले कैस्टर ऑयल को दोनों नॉस्ट्रिल में लगाएं।

*कुछ विशेष गंध से आपको कैसा महसूस होता है-

सूंघने की क्षमता को बढ़ाने के लिए आपको इस बात पर भी ध्‍यान देना होगा कि कुछ विशेष गंध आपको कैसा महसूस कराती हैं। जो नर्व गंध का अनुभव कराती है वह दिमाग के भावनात्‍मक हिस्‍से से सीधे तौर पर जुड़ी होती है, और यह आपके समझदारी को बाहर छोड़ देती है। अध्‍ययन के अनुसार, उदाहरण के लिए जहां एक फास्ट फूड के रैपर, ताजा रोटी या पेस्ट्री की गंध आपकी लालसा को जगा देती है, वहीं दूसरी ओर, पुदीना और दालचीनी एकाग्रता में सुधार और चिड़चिड़ापन दूर करने में मदद करती है और नींबू और कॉफी सामान्य रूप में स्पष्ट सोच और उच्च एकाग्रता के स्तर को बढ़ावा देने में मदद करती है।

*जिंक का सेवन करें-

ज्यादा से ज्यादा ज़िंक अपने खाने में शुमार करने की कोशिश करें। हायपोस्मिया नामक बीमारी ज़िंक की कमी से होती है। अपने सूंघने की शक्ति बढ़ाने के लिए, ऐसा खाना खाएं जिसमें ज़िंक की मात्रा पर्याप्त हो (जैसे घोंघा, मसूर दाल, सूरजमुखी के बीज और पीकन) और साथ में रोज़ मल्टी विटामिन टेबलेट्स लें जिसमें 7 मिलीग्राम जिंक हो।
*गंध को लहसुन की मदद से वापिस लाया जा सकता है। यह नाक को साफ करके बंद हुए नाक के मार्ग को खोलता है। इसके लिए आपको 2-3 लहसुन की कलियों की जरुरत होती है। इसे एक कप पानी में अच्छी तरह उबाल लें। जब एक बार यह उबल जाए तो इससे 10 मिनट तक भाप लें। या आप इस पानी को गर्म-गर्म पी सकते हैं। इस तरह से दिन में 2-3 बार करें

*दुर्गन्ध से दूर रहे-

सूंघने की क्षमता को बढ़ाने के लिए आप गंदी बदबू से बचने की कोशिश करें। क्‍योंकि काफी देर तक गन्दी बदबू सूंघने से भी आपकी सूंघने की क्षमता पर असर पड़ सकता है। और वह धीरे-धीरे कम होने लगती है।

एक्‍सरसाइज करें-

फिट रहने के लिए एक्‍सरसाइज करने के लिए कहा जाता है। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि इससे हमारी सूंघने की क्षमता भी बढ़ती है। अध्ययन भी बताते हैं कि हमारी सूंघने की शक्ति एक्‍सरसाइज करने के बाद और तेज  हो जाती है। इसलिए अब आपको एक्‍सरसाइज द्वारा फिट रहने का एक और कारण मिल गया।
चीजों को धीरे-धीरे सूंघें
*जब आप किसी गंध को पहचानने की कोशिश कर रहे हों तो एक बार में गंध को अन्दर लेने से अच्छा है कि इसे धीरे-धीरे और छोटी मात्रा में लें। ऐसा करने से आपकी सूंघने की क्षमता बढ़ेगी। आपने देखा होगा कि कुत्ते भी कुछ सूंघते समय ऐसा ही करते हैं। इसलिए कहा जाता है कि कुत्‍ते की सूंघने की क्षमता बहुत अधिक होती है।
सूंघने की क्षमता को प्रभावित करने वाली चीजों से बचें
*अदरक आपके स्वाद की तंत्रिका को सक्रिय करने और गंध की क्षमता को उत्तेजित करता है। आप इस समस्या को रोजाना अदरक खाकर या अदरक की चाय पीकर दूर कर सकते हैं
*ऐसी चीजों से बचें जो आपकी सूंघने की क्षमता को कम करने में योगदान देते हैं। कुछ ठंडे इलाज आपकी सूंघने की क्षमता को कम कर सकते हैं। इसके साथ ही धूम्रपान और शराब भी आपकी सूंघने की क्षमता को प्रभावित करता है। इसलिए कम से कम शराब पीयें क्योंकि अगर आपके खून में अल्कोहल की मात्रा बढ़ने से आपके सूंघने की क्षमता कम हो सकती है।
*नींबू में मौजूद सिट्रस फ्लेवर स्वाद और गंध को पुन: प्राप्त करने में मदद करता है। नींबू में उच्च मात्रा में विटामिन सी होता है जो शरीर को इंफेक्शन से बचाकर इम्यूनिटी बूस्ट करने में मदद करता है। इसके लिए एक नींबू के जूस में 2 चम्मच शहद मिलाकर इसे गर्म पानी में मिलाकर दिन में 2 बार पिएं। या आप खाने के साथ नींबू का सेवन भी कर सकते हैं।
*जब आप खाने की खरीददारी कर रहे हों तो ध्यान रखें कि सबसे अच्छी खुशबू वाली चीज़ वही होंगी जिसकी ज़रुरत आपके शरीर को होगी। इसलिए जो खाना सबसे अच्छी खुशबू दे रहा हो उसे चुन लें। दवाइयों और विटामिन बोतल को सूंघ कर भी आप पता लगा सकते हैं कि किसकी खुशबू बेहतर है और कौन सी दवाई या विटामिन की ज़रुरत आपके शरीर को है।