12.12.16

हरी मटर खाने के स्वास्थ्य और सौन्दर्य लाभ: Health and beauty benefits of eating green peas

   

सर्दियां आते ही हरी सब्जियों का मौसम शुरू हो जाता है जो पौष्टिक तत्‍वों से भरपूर होती है। हरी फलियों और हरी मटर की पैदावार सर्दियों में सबसे ज्‍यादा होती है। कई लोगों को भ्रम होता है कि मटर में पोषक तत्‍व नहीं होते है लेकिन यह गलत है। हरी मटर, पौष्टिक तत्‍वों से भरपूर होती है
हरी मटर काफी स्वास्थ्यकर खाद्य पदार्थों में से एक है और यह कच्चा खाने में भी काफी स्वादिष्ट लगते हैं। इनमें एंटीऑक्सीडेंटस, विटामिन्स, मिनरल्स (anti-oxidants, vitamins, minerals) और अन्य कई स्वास्थ्यवर्धक तत्व भरे हुए हैं जो रोगों का निदान करते हैं और आपके स्वास्थ्य में निखार लाते हैं। आप हमेशा ही स्वाद तथा पोषक मूल्य बढ़ाने के लिए अपने भोजन में हरे मटर डाल सकती हैं, पर इसे कच्चा खाना और भी ज़्यादा स्वास्थ्यवर्धक साबित होता है। जब मटर ताज़े और कच्चे होते हैं, तब ये ज्यादा स्वास्थ्यकर होते हैं। अतः आप इनका कच्चा सेवन करके भी स्वस्थ रह सकते हैं
शरीर की प्रतिरक्षा को बढ़ाता है



मटर शरीर में मौजूद आयरन, जिंक, मैगनीज और तांबा शरीर को बीमारियों से बचाता है। मटर में एंटीआॅक्सीडेंट होता है। जो शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है ताकि शरीर बीमारियों से मुक्त रह सके
मटर वजन निंयत्रित करता है
मटर में मौजूद गुण वजन को नियंत्रित करते हैं। मटर में लो कैलोरी और लो फैट होता है। हरी मटर में हाई फाइबर होता है जो वजन को बढ़ने से रोकता है। यदि वजन कम करना चाहते हैं तो अपने भोजन में हरी मटर का इस्तेमाल अधिक से अधिक करें।
आजकल कई डायटीशियन भी फूड चार्ट में हरी मटर को शामिल करने की सलाह देते है। एक शोध में पता चला है कि हरी मटर में काउमेस्‍ट्रोल होता है जो कि एक प्रकार का फाइटोन्‍यूट्रीयन्‍ट होता है, अगर शरीर में इसकी संतुलित मात्रा होती है तो कैंसर से लड़ने में मदद मिलती है। इसके अलावा, यह भी पता चला है कि अगर आप हर दिन हरी मटर का सेवन करें तो पेट का कैंसर होने का खतरा कम हो जाता है।
बढ़ाए चेहरे की चमक
मटर का प्रयोग चेहरे को सुंदर बनाने के लिए भी किया जा सकता है। यह प्राकृतिक स्क्रब है। पानी में थोड़े से मटरों को उबाल लें और फिर उन्हें कूट पीसकर उनका लेप यानि पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को चेहरे पर रगडें और 15 से 20 मिनट के बाद साफ पानी से चेहरा धो लें। यह चेहरे की खोई हुई चमक को वापस लाता है। और चेहरे की गंदगी को दूर करता है। मटर का उबटन चेहरे से झांई और धब्बों को मिटाता है।
दूध में भुनी हुई मटर के दानों और नारंगी के छिलकों को पीसकर उबटन तैयार करें और इसे चेहरे पर मलें। यह आपके रंग और रूप को संवारेगा।
भूल जाने की बीमारी को घटाएं :
कई लोगों को अल्‍जाइमर की समस्‍या होती है, ऐसे में वह रोजमर्रा की बातें भी भूल जाते है। हरी मटर के नियमित सेवन से यह समस्‍या दूर हो जाती है। हरी मटर को खाने से ऑस्ट्रियोपोरोसिस और ब्रोंकाइटिस आदि से लड़ने में सहायता मिलती है।
दिल की देखभाल करें :
हरी मटर के स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक गुणों में एक गुण यह भी है कि इसके सेवन से हार्ट की बीमरियां कम होती है। इसमें एंटी - इनफ्लैमेट्टरी कम्‍पाउंड होते है और एंटी - ऑक्‍सीडेंट भी भरपूर मात्रा में होता है। इन दोनों ही कम्‍पाउंड के कॉम्‍बीनेशन से दिल की बीमारियां होने का खतरा कम हो जाता है।



ज्यादा उम्र  मे भी जवां रखे :
हरी मटर में भरपूर मात्रा में एंटी - ऑक्‍सीडेंट होते है जो शरीर को चुस्‍त - दुरूस्‍त रखने में सहायक होते है। इसके अलावा, हरी मटर में फ्लैवानॉड्स, फाइटोन्‍यूटिंस, कैरोटिन आदि होते है जो शरीर को हमेशा यंग और एनर्जी से भरपूर बनाएं रखता है। ये वाकई में हरी मटर का सबसे दिलचस्‍प गुण है।
गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद
मटर में मौजूद फालोक एसिड जो पेट में भू्रणं की समस्याओं को दूर करता है साथ ही गर्भवती महिला को पर्याप्त पोषण देता है। गर्भवती महिलाओं को अपने खाने में हरी मटर को जरूर शामिल करना चाहिए।
ब्‍लड़ शुगर लेवल को कंट्रोल में करना :
हरी मटर में उच्‍च फाइबर और प्रोटीन तत्‍व होते है जो शरीर में ब्‍लड़ सुगर की मात्रा को नियंत्रित करते है।
दे सूजन और जलन में राहत
सर्दियों के समय में हाथों में होने वाली सूजन में मटर के काढ़े को हल्का गरम करके उसमें थोडी देर के लिए उंगलियों को डालकर रखने से सूजन कम होती है।
यदि सूजन शरीर में है तो मटर के उबले हुए पानी से नहाने से शरीर की सूजन खत्म होती है।
यदि किसी वजह से त्वचा जल गई हो तो हरी मटर का पेस्ट लगा लें। यह तुरंत राहत देती है।


एक टिप्पणी भेजें