12/11/16

सिर्फ 3 दिन में पाएं शरीर और जोड़ो के दर्द से छुटकारा,: In just 3 days, get rid of the body and joint pain





अक्सर बढती उम्र अपने साथ कुछ बीमारियों को ले आती है जिन में जोड़ो का दर्द आम है | जोड़ो का दर्द कई तरह से अनुभव किया जाता है जैसे के सीढियां चढ़ते समय या कोई भारी काम करते समय| पहले तो जोड़ो के दर्द से बूढ़े लोग परेशान थे लेकिन अब तो यह जवान महिलाओं और पुरषों को भी होने लग गया है|

आँव रोग (पेचिश) के घरेलू आयुर्वेदिक उपचार

जोड़ो का दर्द शरीर का एक ऐसा दर्द होता है जिस का वर्णन करना मुश्किल होता है क्यूंकि जिस को यह दर्द होता है उसी को पता होता है |यह बेहद भयंकर दर्द होता है जिससे इंसान के स्वभाव में चिड़चिड़ापन आ जाता है
जोड़ो का दर्द किसी भी कारण हो सकता है जैसे के बढती उम्र, जोड़ो में तरल की कमी तथा किसी प्रकार की चोट |आज हम आपके लिए एक ऐसा नुख्सा लेकर आये है जिस के इस्तेमाल से आपके जोड़ो का दर्द मानो छूमंतर हो जायेगा




आवश्यक सामग्री

बंद नाक खोलने और कफ़ निकालने के अनुपम नुस्खे

5-6 गाजर
½ चमच काली मिर्च
2 cm ताजा अदरक का टुकड़ा
½ चम्च हल्दी


अपेन्डिसाइटिस (उपान्त्र शोथ) के घरेलू  उपचार

बनाने की विधि
गाजर को अच्छी तरह से साफ़ कर लेना है और काट लेना है | उसके बाद अदरक हल्दी और काली मिर्च का पाउडर बना लेना है और इन सब को इक साथ ब्लेंडर में डाल कर ब्लेंड कर लेना है जब तक के यह अच्छी तरह से मिक्स न हो जाये सम्पूर्ण मिश्रण बन जाने के बाद रोजाना तीन बार 50 से 60 ml सेवन करना है लेकिन ध्यान रखे के इस मिश्रण का सेवन खाना खाने के आधा घंटा पहले करे | अगर यह मिश्रण ज्यादा गाढ़ा हो जाये तो आप इसमें जरूरत अनुसार पानी मिला सकते हो |आप को जल्द ही फर्क महसूस होगा |

विशिष्ट परामर्श-  

संधिवात,कमरदर्द,गठिया, साईटिका ,घुटनो का दर्द आदि वात जन्य रोगों में जड़ी - बूटी निर्मित हर्बल औषधि ही अधिकतम प्रभावकारी सिद्ध होती है| रोग को जड़ से निर्मूलन करती है| रोगी के व्यक्तिगत लक्षणों के आधार पर  निर्मित औषधि से बिस्तर पकड़े पुराने रोगी भी दर्द मुक्त गतिशीलता हासिल करते हैं| औषधि के लिए वैध्य दामोदर से 98267-95656 पर संपर्क करने की सलाह दी जाती है|
एक टिप्पणी भेजें