12.3.16

प्याज खाने के फायदे :Benefits of Onion






. भोजन के साथ सलाद के रूप में खाया जाने वाला कच्चा प्याज हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है। सैंडविच, सलाद या फिर चाट, प्याज सभी के स्वाद को दोगुना कर देता है। यदि आपको डर है कि प्याज खाने से दुर्गंध आएगी तो खाने के बाद माउथ फ्रेशनर खाइए या ब्रश कर लीजिए, लेकिन प्याज जरूर खाइए। आहार विशेषज्ञों की मानें तो यह यौन दुर्बलता को दूर करने में भी बहुत उपयोगी है। यौन शक्ति के संवर्धन एवं संरक्षण के लिए प्याज एक सस्ता एवं सुलभ विकल्प है। आइए आज हम आपको बताते हैं प्याज के कुछ ऐसे ही उपयोग और गुणों के बारे में, जिन्हें अपनाकर आप कई समस्याओं से मुक्ति पा सकते हैं।
*भारतीय खाने की बात करें तो यहां बनने वाली कोई भी सब्जी बिना प्याज के बनाई ही नहीं जा सकती। प्याज नॉनवेज और वेज पंसद करने वाले सबके काम आता है। तो इतना खूबियां जानने के बाद ये जरुरी हो जाता है कि प्याज का प्रयोग क्यों होता है खाने में और इसे खाने के क्या फायदे हैं।
*प्याज में फैल्वोनाइड होता है रक्त से ग्लूकोज कम करता है। एक शोध बताता है कि प्याज खाने से टाइप 1 और टाइप 2 दोनों तरह के डायबीटीज में फायदा होता है।
*यदि आप सर्दी, कफ या खराश से पीड़ित हैं तो ताजे प्याज का रस पीजिए। इसमें गुड़ या शहद मिलाकर पीना अधिक फायदेमंद होता है।
रोजाना प्याज खाने से इंसुलिन पैदा होता है। यदि आप डायबिटिक हैं तो इसे खाने के साथ रोज सलाद के रूप में खाएं।
हिस्टीरिया का रोगी अगर बेहोश हो जाए तो उसे प्याज कूटकर सुंघाएं। इससे रोगी तुरंत होश में आ जाता है। -
प्याज में मौजूद रेशे पेट के लिए बेहद फायदेमंद हैं। प्याज खाने से कब्ज दूर हो जाती है। यदि आपको कब्ज की शिकायत है तो कच्चा प्याज रोज खाना शुरू कर दीजिए।
नाक से खून बह रहा हो तो कच्चा प्याज काट कर सूंघ लीजिए। इसके अलावा यदि पाइल्स की समस्या हो तो सफेद प्याज खाना शुरू कर दें। 
.*प्याज के रस को सरसों के तेल में मिलाकर जोड़ों पर मालिश करने से जोड़ों के दर्द में आराम मिलता है। माना जाता है कि इस नुस्खे को दो महीनों तक लगातार आजमाया जाए तो बहुत फायदा होता है। प्याज के रस और नमक का मिश्रण मसूड़ों की सूजन और दांत दर्द को कम करता है। पातालकोट के आदिवासी मधुमक्खी या ततैया के काटे जाने पर घाव पर प्याज का रस लगाते हैं। प्याज के बीजों को सिरका में पीसकर दाद-खाज और खुजली में लगाने पर शीघ्र आराम मिलता है।त्वचा पर होने वाली झुर्रियां को कम करता है प्याज। साथ ही मुंहासो पर भी असर करता है।
3 चम्मच प्याज का रस और एक चम्मच शहद मिलाकर लेने से मासिक धर्म की अनियमितता व उस दौरान होने वाले दर्द से राहत मिलती है। गर्मियों में प्याज रोज खाना चाहिए। यह आपको लू लगने से बचाएगा। प्याज का रस और सरसों का तेल बराबर मात्रा में मिलाकर मालिश करने से गठिया के दर्द में आराम मिलता है। 
शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है प्याज। इसमें विटामिन सी होता है जो इम्यूनिटी बढ़ाता है। 
प्याज में सल्फर की मात्रा सबसे ज्यादा होता है तो खून में कोलेस्टॉल के स्तर को कम करता है। इसके अलावा इसमें मिलने वाला एंटीऑक्सीडेंट तनाव को कम करता है
 ्तीतीन
एक टिप्पणी भेजें