19.10.13

नपुंसकता और शीघ्रपतन मे प्याज के चमत्कारी प्रभाव





वीर्य वृद्धि के लिए-
सफ़ेद प्याज के रस को शहद के साथ लेने से वीर्य बनाने की प्रक्रिया में तेजी आ जाती है|
देसी उपचारों के जानकार बताते हैं कि



सफ़ेद प्याज का रस ५ मिली ,शहद १० ग्राम ,अदरक का रस ५ मिली और गाय का घी ५ ग्राम मिश्रण कर सुबह शाम २१ दिन तक लेते रहने से नपुंसकता का निवारण होता है और पुरुषत्व में वृद्धि होती है|



जोड़ों के दर्द में उपकारी :-
प्याज के रस को सरसों के तेल में मिलाकर कुछ गर्म करके जोड़ों पर मालिश करने से बहुत लाभ होता है| यह उपचार लगातार दो माह करने से आशातीत सफल परिणाम प्राप्त होते हैं|
खांसी में उपयोग-
बच्चों और बूढों की



खांसी में प्याज का रस मिश्री मिलाकर सेवन करना चाहिए| खांसी धीरे धीरे ठीक होने लगती है|
सफ़ेद प्याज दिल के रोगों में उपकारी होता है| लाल प्याज बल बढाने वाला होता है|
बालकों की शारीरिक विकास हेतु प्याज का उपयोग गुड के साथ करने की सलाह दी जाती है|
दांत का दर्द और मसूढों की सूजन में --
प्याज के रस में नमक मिलाकर दांत-मसूढों पर मलने से दर्द और सूजन दूर होते हैं|
एक टिप्पणी भेजें