15.1.13

30 दिनों में गंजापन दूर करने के अचूक उपाय: How to fight against baldness?



  1. गंजापन एक आम समस्या बन गई है,चाहे महिला हो या पुरुष, ये समस्या दोनों को हो सकती हैं. गंजापन को एलोपेसिया भी कहते हैं. जब असामान्य रूप से बहुत तेजी से बाल झड़ने लगते हैं तो नये बाल उतनी तेजी से नहीं उग पाते या फिर वे पहले के बाल से अधिक पतले या कमजोर उगते हैं. ऐसे में आगे जाकर गंजे होने की संभावना अधिक हो जाती है.।


    कारण--



    बालों का गिरना या झड़ना एक गंभीर समस्या है. बालों के झड़ने अथवा गंजेपन के कई कारण है जैसे बालों की जड़ों का कमजोर हो जाना, पिट्यूटरी ग्लैंड(पियूस ग्रंथि) में हार्मोन्स की कमी, सिर पर रुसी की अधिकता, बालों की जड़ों में पोषक तत्वों की कमी, क्रोध, शोक, चिंता, अधिक मानसिक परिश्रम, अधिक गरम भोजन, सिर में बढ़ती गर्मी, भोजन में विटामिंस मिनिरल्स, रेशा एवं आभ्यंतर रस हार्मोन्स की कमी, लगातार सिर दर्द रहने से रक्त संचार में कमी, भोजन का सही ढंग से न पचना, सिर के स्नायुओं में प्राण प्रवाह की कमी.|
    गंजेपन की चिकित्सा--
    हमारे भोजन में कतिपय ऐसे मिनरल्स पाये जाते हैं जिनका गंजापन विरोधी प्रभाव होता है।
    यहां हम ऐसे ही भोजन तत्वों का विवरण प्रस्तुत करते हैं--
    सबसे महत्वपूर्ण तत्व जो गंजापन दूर कर सकते हैं वे हैं- जिंक,कापर ,लोह तत्व और सिलिका.
    जिंक में गंजापन नष्ट करने वाले तत्व पाये जाते हैं। केले,अंजीर,बेंगन ,आलू और स्ट्राबेरी में जिंक की संतोषप्रद मात्रा निहित होती है।
    कापर तत्व हमारे इम्युन सिस्टम को को मजबूत करते हुए बालों की सुरक्षा करता है। रक्त में हेमोग्लोबिन की वृद्धि के लिये कापर सहायता करता है। दालें,सोयाबीन और वालनट आदि में कापर तत्व पाया जाता है।
    लोह तत्व बालों की सुरक्षा और पोषण के लिये आवश्यक है। मटर,गाजर, चिकोरी, ककडी, और पालक में पर्याप्त आयरन होता है। अपने भोजन में इन्हें शामिल करना उचित है।
    सिलिका तत्व चावल और आम में मौजूद रहता है।
    गंजापन में उपयोगी अन्य उपचार-




    *उड़द की दाल को उबाल कर पीस लें। रात को सोते समय इस पिट्ठी का लेप सिर पर कुछ दिनों तक करते रहने से गंजापन समाप्त हो जाता है।
    मैथी का प्रयोग--
    मेथी को पूरी रात भिगो दें और सुबह उसे गाढ़ी दही में मिला कर अपने बालों और जड़ो में लगाएं। उसके बाद बालों को धो लें इससे रुसी और सिर की त्‍वचा में जो भी समस्‍या होगी वह दूर हो जाएगी।मेथी में निकोटिनिक एसिड और प्रोटीन पाया जाता है जो बालों की जड़ो को प्रोषण पहुंचाता है और बालों की ग्रोथ को भी बढ़ाता है। इसके प्रयोग से सूखे और डैमेज बाल भी ठीक हो जाते हैं।
    हरा धनिया-
    *हरे धनिए का लेप जिस स्थान पर बाल उड़ गए हैं, वहां करने से बाल उगने लगते हैं.।
    अन्य उपयोगी उपचार-
    *थोड़ी सी मुलहठी को दूध में पीसकर, फिर उसमें चुटकी भर केसर डाल कर उसका पेस्ट बनाकर सोते समय सिर में लगाने से गंजेपन की समस्या दूर होती है.
    केले का गूदा निकालकर उसे निंबू के रस में मिलाकर गंजवाले स्थान पर लगाने से बालों के उडने की समस्या में लाभ होता है।
    *अनार के पती पीसकर गंज-स्थल पर लगाने से गंज का निवारण होता है।
    *प्याज काटकर दो भाग करें। आधे प्याज को गंज वाले भाग पर ५ मिनिट रोज रगडें। फिर शहद लगाएं| बाल आने लगेंगे।
    *गाजर भी बालों की समस्या में बहुत हितकारी है| गाजर को उबालें फिर पीसकर पेस्ट बनालें| यह पेस्ट बालों और गंज की जगह ३० मिनिट तक लगी रहने दें और फिर धो लें| इससे बालों के झड़ने पर रोक लगती है और नए बाल उगने लगते हैं|


    *२-३ आलू का रस निकालें| इस रस को सेव के रस के साथ मिलाएं| अब इस घोल में अंडे की जर्दी और थोड़ा सा शहद मिलाएं| | इस घोल को नहाने के ३० मिनिट पाहिले सर पर लगाएं| इस प्रयोग से बालों की चमक और लम्बाई बढ़ती है| नए बाल को उगने का प्रोत्साहन मिलता है|


    *नीम के पत्तों को पीसकर पेस्ट बनालें ,इसे भली प्रकार बालों में लगाएं ,सूखने पर बाल धोलें| इस उपचार से बाल झडना बंद हो जाते हैं |
    *बेसन मिला दूध या दही से बाल धोएँ| उपकारी उपाय है|

    *कच्चे पपीते का पेस्ट सर में १० मिनिट लगाएं फिर धोलें| बाल नहीं झड़ेंगे और डेंड्रफ (रूसी) का ईलाज भी हो जाएगा |
    बालो के रोग -
    पुरुषों में बालों के झड़ने की समस्या को एण्ड्रोजन एलोपेशिया कहते है।
    यह अनुवांशिक कारणों से होता है और कई पुश्तें इसकी चपेट में आती हैं।
    बाल झड़ने के पीछे हो सकते हैं कई अन्य कारण।
    पुरुषों में बालों का झडना सामान्य समस्या है। इसे एण्ड्रोजन एलोपेशिया कहते है। यह ज्यादातर आनुवांशिक कारणों से होता है और यह पीढ़ी दर पीढ़ी परिवारों में चलता है। पुरुषों के चालीस वर्ष की आयु के आसपास बाल झड़ना शुरू हो जाता है। लेकिन, कई लोगों में यह समस्या इससे पहले भी शुरू हो जाती है।
    बालों का पतला होना और बाल गिरना आम समस्या है। पुरुषों में बाल झड़ने का कारण है आहार में विटामिन 'बी' और फोलिक एसिड की कमी, अपर्याप्त पोषण जो की तनाव, उत्तेजना और अचानक किसी सदमे से बढ़ जाता है। बाल झड़ना भी लंबी बीमारी की वजह से हो सकता है। टायफाइड, सिफलिस, लंबे समय से हुई सर्दी, इन्फ्लुएंजा और अनीमिया जैसे रोग बाल झड़ने के कारण हो सकते हैं|
    बालों के झड़ने लिए घरेलू उपचार-
    *एक कप सरसों के तेल को गर्म करे और इसमें चार टेबल स्पून हिना ( मेहंदी ) की पत्तियां मिलाएं। इस मिश्रण को छानकर बोतल में रख दें। अपने गंजे धब्बों को इस घरेलू उपचार के साथ रोजाना मालिश करें।सिर के जिस हिस्से में बाल उड़ गए हों वहां प्याज की लेई से घिसे जब तक की यह लाल न हो जाए और इसके बाद शहद लगाएं।
    *अपने सिर पर शहद और अंडे के योक के मिश्रण से मालिश करे। और फिर इसको आधे घंटे के लिए छोड़ दे इसके बाद इसे धो लें।
    *5 टेबल स्पून दही में एक चम्मच नींबू का रस और 2 टेबल स्पून काले चने का पाउडर मिलायें। इस मिश्रण को एक घंटे तक सिर पर लगाकर रखें। इससे आपको काफी लाभ होगा।
    *पुरुषों में बाल झडना रोकने के लिए अपने आहार में अतिरिक्त खनिज पदार्थ शामिल कीजिए। जैसे कैल्शियम, मैग्नीशियम, और जिंक साथ ही हरी पत्तेदार सब्जियां जरूर खायें। तनाव और उत्तेजना कम करने के लिए ध्यान और योग करें और गीले बालों पर कंघी करने से बचें
एक टिप्पणी भेजें