28.12.14

हर्बल इलाज के दोहे ;dohe of herbal remedy

* शहद आंवला जूस हो, मिश्री सब दस ग्राम, 
बीस ग्राम घी साथ में, यौवन स्थिर काम..

*दही मथें माखन मिले, केसर संग मिलाय, 
होठों पर लेपित करें, रंग गुलाबी आय..

*ठण्ड लगे जब आपको, सर्दी से बेहाल, 
नीबू मधु के साथ में, अदरक पियें उबाल..

*बहती यदि जो नाक हो, बहुत बुरा हो हाल, 
यूकेलिप्टिस तेल लें, सूंघें डाल रुमाल..



*अजवाइन को पीसिये , गाढ़ा लेप लगाय, 
चर्म रोग सब दूर हो, तन कंचन बन जाय..

* अजवाइन को पीस लें, नीबू संग मिलाय, 
फोड़ा-फुंसी दूर हों, सभी बला टल जाय..



*अजवाइन-गुड़ खाइए, तभी बने कुछ काम, 
पित्त रोग में लाभ हो, पायेंगे आराम..

.

*अदरक का रस लीजिए. मधु लेवें समभाग, 
नियमित सेवन जब करें, सर्दी जाए भाग..



*रोटी मक्के की भली, खा लें यदि भरपूर
बेहतर लीवर आपका, टी० बी० भी हो दूर..












*गाजर रस संग आँवला, बीस औ चालिस ग्राम, 
रक्तचाप हिरदय सही, पायें सब आराम..













*
*चिंतित होता क्यों भला, देख बुढ़ापा रोय, 
चौलाई पालक भली, यौवन स्थिर होय..











*लाल टमाटर लीजिए, खीरा सहित सनेह,
जूस करेला साथ हो, दूर रहे मधुमेह..






*प्रातः संध्या पीजिए, खाली पेट सनेह , 
जामुन-गुठली पीसिये, नहीं रहे मधुमेह..

*सात पत्र लें नीम के, खाली पेट चबाय, 
दूर करे मधुमेह को, सब कुछ मन को भाय..

*सात फूल ले लीजिए, सुन्दर सदाबहार, 
दूर करे मधुमेह को, जीवन में हो प्यार..




*तुलसीदल दस लीजिए, उठकर प्रातःकाल, 
सेहत सुधरे आपकी, तन-मन मालामाल..







* थोड़ा सा गुड़ लीजिए,दूर रहें सब रोग, 
अधिक कभी मत खाइए, चाहे मोहनभोग.

*अजवाइन और हींग लें,लहसुन तेल पकाय, 
मालिश जोड़ों की करें, दर्द दूर हो जाय..



*ऐलोवेरा-आँवला, करे खून में वृद्धि, 
उदर व्याधियाँ दूर हों, जीवन में हो सिद्धि..












*दस्त अगर आने लगें, चिंतित दीखे माथ, 
दालचीनि का पाउडर, लें पानी के साथ..





* मुँह में बदबू हो अगर, दालचीनि मुख डाल, 
बने सुगन्धित मुख, महक, दूर होय तत्काल..

*कंचन काया को कभी, पित्त अगर दे कष्ट, 
घृतकुमारि संग आँवला, करे उसे भी नष्ट..

*बीस मिली रस आँवला, पांच ग्राम मधु संग, 
सुबह शाम में चाटिये, बढ़े ज्योति सब दंग..


*बीस मिली रस आँवला, हल्दी हो एक ग्राम, 
सर्दी कफ तकलीफ में, फ़ौरन हो आराम..










*नीबू बेसन जल शहद , मिश्रित लेप लगाय, 
चेहरा सुन्दर तब बने, बेहतर यही उपाय..



*मधु का सेवन जो करे, सुख पावेगा सोय, 
कंठ सुरीला साथ में , वाणी मधुरिम होय.











*पीता थोड़ी छाछ जो, भोजन करके रोज, 
नहीं जरूरत वैद्य की, चेहरे पर हो ओज..




* ठण्ड अगर लग जाय जो नहीं बने कुछ काम, 
नियमित पी लें गुनगुना, पानी दे आराम..

*कफ से पीड़ित हो अगर, खाँसी बहुत सताय, 
अजवाइन की भाप लें, कफ तब बाहर आय..

*अजवाइन लें छाछ संग, मात्रा पाँच गिराम, 
कीट पेट के नष्ट हों, जल्दी हो आराम..

*छाछ हींग सेंधा नमक, दूर करे सब रोग, 
जीरा उसमें डालकर, पियें सदा यह भोग..।

------------------------------------------------------------

19.12.14

पालक में हैं भरपूर औषधीय गुण:Spinach are rich in medicinal properties


पालक में विटामिन ए,बी,,सी और इ  एवं प्रोटीन,सोडियम,,केल्शियम ,फास्फोरस  और लोह तत्व पाया जाता है| यह रक्त  की शुद्धि  करता है और रक्ताणुओं  में वृद्धि करता है| पालक में  प्रोटीन  उत्पादक  एमिनो एसीड  पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है|
इसके हरे पत्तों में ऐसा तत्त्व होता है जो प्राणी मात्र   का  विकास और वृद्धि करता है| पालक बुद्धि बढ़ाने में सहायक है|

   पालक कफ  एवं श्वास  रोगों में हितकर है| पालक आँतों को क्रिया शील रखता है और आँतों में मौजूद  मल  को बाहर निकालने में सहायता  करता है| मधुमेह रोग में भी पालक की उपयोगिता  साबित हो चुकी है| इसके बीज पीलिया और पित्त प्रकोप  से निजात दिलाने में सहायक हैं| कच्चा पलक खाने में खारा और  थौड़ा कड़वा होता है  लेकिन बहुत लाभ कारी है| दही के साथ कच्चे  पालक का रायता  स्वादिष्ट और गुणकारी होता है| सम्पूर्ण पाचन संस्थान के लिए पालक  अति उपयोगी है|

    पालक निम्न रोगों में हितकर है-  रक्त वृद्धि के लिए पालक का रस आधा गिलास में दो चम्मच शहद  मिलाकर  रोजाना  दो  माह तक पीने से शरीर  में खून की वृद्धि होती है | 

गले की जलन में पलक के रस  से कुल्ले करने से लाभ होता है|
 पालक के पत्तों का रस या क्वाथ  पीने से  पथरी पिघल जाती है| और मूत्र वृद्धि होकर  इसके कण बाहर निकल जाते हैं\ नेत्र ज्योति  बढाने के लिए पालक में पर्याप्त मात्रा में विटामिन ए होता है|

पालक विभिन्न उदर रोगों में लाभ प्रद है| आमाशय के घाव छाले और आँतों के अल्सर में भी




पालक का रस  लाभ प्रद है| कच्चे पालक का रस आधा गिलास नित्य पीते रहने से कब्ज- नाश होता है| पायरिया रोग में कच्ची पालक खूब चबाकर  खाना  और पत्ते का रस पीना हितकर है\

  रक्त की कमी संबंधी विकारों मे पालक का रस १०० मिली  दिन में तीन बार पीने से  चेहरे पर लालिमा ,शक्ति स्फूर्ति का संचार   होता है\ रक्त संचार   प्रक्रिया में तेजी आती है और  चेहरे के रंग में निखार आता है 

7.12.14

सर्दी जुकाम का इलाज घरेलू नुस्खों से household tips for colds



  1. सर्दी का मौसम जैसे ही शुरू होता है उससे जुड़ी न जाने कितनी ही बीमारी भी दस्तक देने लगती है, जिनका हमें पता तक नहीं चलता। रोज-मर्रा की जिंदगी में हम लोग अपनी सेहत का सही से ख्याल भी नहीं रख पाते जिस कारण हम धीरे-धीरे बड़ी बीमारी को बुलावा देते है। जब हमारा शरीर मौसम के अनुसार एडजस्ट नहीं पाता है तो हम मौसमी रोगों के शिकार हो जाते है। मौसम के बदलाने के कारण व्यक्ति का शरीर वातावरण में हो रहे लगातार और तेज बदवाल को नहीं झेल पाता है जिससे सर्दि और गर्मी का असर सर्दी-जुकाम जैसी बीमारी से ग्रसित हो जाता है| जुकाम की शुरुआत ही नाक से होती है लेकिन इसका असर पूरे शरीर पर होता है। जुकाम की कोई दवाई नहीं है। इससे निपटने के लिए ज्यादातर घरुलु नुस्खे ही काम आते है, इससे बचने के लिए हम
    आपको कुछ घरेलू उपाय बता रहे हैं जो आपके बहुत काम आएंगे।
    अगर आपके गले में खराश हो और आपकी नाक सर्दी के कारण बंद हो जाए, तो आप घबराएं नहीं बल्कि एक गिलास गर्म पानी में थोड़ा सा नमक डालकर गरारे करें। ऐसा करने से आपका गला साफ हो जाएगा और यह इस बीमारी को भी आपसे दूर रखने में मदद करेंगा।
    सर्दी होने पर आप एक चम्मच शहद के साथ अदरक खा सकते हैं। यह प्रक्रिया आपको सुबह शाम करनी होगी जिससे सर्दी जुकाम में जल्दी आराम मिलेगा।




आप जुकाम से निपटने के लिए भाप  भी ले सकते हैं। बंद नाक और बलगम से आपको छुटकारा मिल जाएगा।
अगर आप जुकाम से ज्यादा ही परेशान है तो आप हल्‍दी को गर्म दूध के साथ लें, ऐसा करने से जुकाम में बहुत राहत पहुंचाती है।


विडियो-

6.12.14

पत्ता गोभी के स्वास्थ्य वर्धक गुण : Health benefits of Cabbage


पत्तागोभी में न घुलने वाला फायबर, बिटा केरोटिन, विटामिंस B1, B6, K, E, C के अलावा और भी कई विटामिंस भरपूर मात्रा में होते हैं। पत्तागोभी में मिनरल्स आयरन और सल्फर भी काफी ज्यादा होते हैं।
पत्तागोभी आपके स्वास्थ्य, त्वचा और बालों के लिए बहुत उपयोगी है। इसमें पाए जाने वाले खास गुणों के कारण इसे सुपर फुड भी माना जाता है। अगर आप अपने स्वास्थ्य को बिल्कुल दुरुस्त रखना चाहते हैं तो पत्तागोभी को अपने डाइट का हिस्सा बनाना सबसे बेहतर कदम है।

1. मेडिकल विशेषज्ञ मानते हैं कि कच्चे पत्तागोभी के ज्यूस में आइसोसाइनेट्स होते हैं जो कि एक प्रकार के केमिकल कंपाउड्स होते हैं जो आपके शरीर में एस्ट्रोजिन मेटाबोलिज्म की प्रकिया को तेज करते हैं और आपको स्तन कैंसर, फेफडों के कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर, पेट के कैंसर और कोलोन कैंसर से बचाए रखते हैं। इसके उपयोग से कैंसर के ठीक होने की प्रकिया को भी गति मिलती है।
2. पत्तागोभी पेट को साफ रखने में बहुत कारगर है। इसमें क्लोरीन और सल्फर नाम के दो बहुत जरुरी मिनरल्स होते हैं। आप पत्तागोभी का ज्यूस पीने के बाद एक तरह की गैस महसूस करेंगे और यह गैस इस बात का इशारा होता है कि ज्यूस ने अपना काम करना शुरु कर दिया है।
3. क्या आप कुछ किलो वजन कम करने की बहुत कोशिश कर रहे हैं? आप एक बार पत्तागोभी के ज्यूस को भी आजमाइए। पत्तागोभी को वजन कम करने के लिए बहुत ही कारगर उपाय समझा जाता है। यह आपके पाचन को दुरुस्त करता है और इसमें कैलोरी की मात्रा भी बहुत कम होती है। यह पेट से जुडी हर प्रकार की समस्या से आपको निजात दिलाता है और अल्सर के इलाज में तो इसे अचूक उपाय समझा जाता है।
4. पत्तागोभी में फोलिक एसिड होता है जिसमें एनीमिया यानी खून की कमी को दूर करने का खास गुण होता है। फोलिक एसिड में नए ब्लड सेल्स का निर्माण करता है।
5. पत्तागोभी आपको त्वचा संबंधी सभी समस्याओं को भुला देगा। इस बात से कोई प्रभाव नही पड़ता कि आपकी त्वचा कितनी खराब हो चुकी है क्योंकि पतागोभी में त्वचा की प्राकृतिक चमक को वापस लाने का गुण होता है।
6. पत्तागोभी एंटीआक्सीडेंट्स और फेटोकेमिकल्स से भरपूर होता है और इस तरह यह त्वचा संबंधी परेशानियों जैसे एक्ने, पिंपल्स और ब्लैक हेड्स से आपको सुरक्षित रखता है।

7. पत्तागोभी में पाए जाने वाले एंटीआक्सीडेंट्स त्वचा में नमी लाते हैं और उम्र का असर खत्म कर देते हैं। आप पत्तागोभी का ज्यूस अपने रोज के नाश्ते में लीजिए और रिंकल्स को गायब होते देखिए।
8. पत्तागोभी को रंग साफ करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। इसमें पोटेशियम (जिसमें आपके शरीर को साफ करने का गुण होता है) के अलावा विटामिन A और विटामिन E होते हैं। यह दोनों विटामिन स्किन टीशुज को ताजगी देकर आपकी त्वचा को गोरा, नर्म और आकर्षक बनाते हैं।




9. पत्तागोभी के फायदों में अगला क्रम बालों के स्वास्थ्य का आता है। इसके बालों पर होने वाले फायदे आश्चर्यजनक हैं। पत्तागोभी का ज्यूस आपके शरीर में सल्फर की पूर्ति करता है और आपके बालों को मजबूती प्रदान कर उनका झड़ना रोकता है।
10. पत्तागोभी के ज्यूस में पाया जाने वाले विटामिन E और सिलीकॉन से नए बाल उग आते हैं। इसके नियमित इस्तेमाल से आप काले और घने बाल पा सकते हैं।

3.12.14

करेले के स्वास्थ्य वर्धक गुण : Bitter gaurd for health



कड़वे करेले में बीमारियोंं से लड़ने की उम्दा शक्ति है| प्रति 100 ग्राम करेले में लगभग
92 ग्राम नमी होती है। साथ ही इसमें लगभग 4 ग्राम कार्बोहाइडेट, 15 ग्राम प्रोटीन, 20 मिलीग्राम
कैल्शियम, 70 मिलीग्राम फस्फोरस, 18 मिलीग्राम, आयरन तथा बहुत थोड़ी मात्रा में वसा भी
होती है। इसमें विटामिन ए तथा सी भी होती है जिनकी मात्रा प्रति 100 ग्राम में क्रमश:
126 मिलीग्राम तथा 88 मिलीग्राम होती है।
२) करेला मधुमेह में रामबाण औषधि का कार्य करता है, छाया में सुखाए हुए करेला का एक
चम्मच पावडर प्रतिदिन सेवनकरने से डायबिटीज में चमत्कारिक लाभ मिलता है क्योंकि करेला
पेंक्रियाज को उत्तेजित कर इंसुलिन के स्रवण को बढ़ाता है|




३) विटामिन ए की उपस्थिति के कारण इसकी सब्जी खाने से रतौंधी रोग नहीं होता है। 
जोड़ों के दर्द में करेले की सब्जी का सेवन व जोड़ों पर करेले के पत्तों का रस लगाने से
आराम मिलता है।
४) करेले के तीन बीज और तीन कालीमिर्च को पत्थर पर पानी के साथ घिसकर बच्चों को पिलाने
से उल्टी-दस्त बंद होते हैं।करेले के पत्तों को सेंककर सेंधा नमक मिलाकर खाने से अम्लपित्त के
रोगियों को भोजन से पहले होने वाली उल्टी बंद होती है।
५) करेला खाने वाले को कफ की शिकायत नहीं होने पाती। इसमें प्रोटीन तो भरपूर पाया जाता है।
इसके अलावा करेले मेंकैल्शियम, कार्बोहाइड्रेट और विटामिन पाए जाते हैं। करेले की छोटी और बड़ी
दो प्रकार की प्रजाति होती है, जिससे इनकेकसैलेपन में भी अंतर आता है।






6. करेले का रस और 1 नींबू का रस मिलाकर सुबह सेवन करने से शरीर की चर्बी कम होती है
और मोटापा कम होता है।पथरी रोगी को 2 करेले का रस प्रतिदिन पीना चाहिए और इसकी सब्जी
खाना चाहिए। इससे पथरी गलकर पेशाब के साथ बाहर निकल जाती है।











7. लकवे के रोगियों को करेला जबरदस्त फायदा पहुंचाता है। दस्त और उल्टी की शिकायत की
सूरत में करेले का रसनिकालकर उसमें काला नमक और थोड़ा पानी मिलाकर पीने से फायदा देखा गया है।


करेले के लाभ का विडियो-